Breaking

Friday, 13 October 2017

Bounce rate kya hai aur bounce rate ko kam kaise kare?

यदि आपने seo को अच्छी तरह से जाना और समझा लेकिन bounce rate को नहीं जाना तो आपकी मेहनत बेकार की जाएगी क्योकि bounce rate क्या है और इसको कैसे कम किया जाये , seo में इसकी जानकारी रखना जरूरी होता है क्योकि हमारे blog और वेबसाइट की quality की भी पता चल जाती है तो bounce rate  इसके बारे में आज के post में बताने वाले है |





Bounce Rate kya hai ( bounce rate क्या है?)
जब कोई user or visiter हमारे blog और वेबसाइट पर सिर्फ एक ही समय में आपके blog का सिर्फ एक page open करता है और फिर बिना कोई दूसरा article पढ़े बिना तुरंत चला जाता है और जब इसे विभिन्न process करके visiter का site पर बने रहने का प्रतिशत निकाला जाता है तो इसे bounce rate कहा जाता है| bounce rate सिर्फ visiter पर ही निर्भर करता है की वो कितनी देर तक blog पर रहा, और कितना पेज पढ़ा, कितने page पर click किया आदि| bounce rate 0 से 100% तक होती है |

क्या bounce rate बेकार की चीज़ है?
ऐसा तो ठीक - ठीक नहीं कहा जा सकता है क्योकि यदि आपकी कोई single पेज की blog है तो उसका सिर्फ एक page होने के कारण bounce rate उच्च हो सकता है | इसके विपरीत यदि single page की blog नहीं है और वो एक वेबसाइट है तो एक ही visiter द्वारा ज्यादा पेज देखे जाने पर bounce rate कम हो सकता है | निष्कर्षतः हम कहे तो blog के लिए ज्यादा bounce rate हानिकारक होता है जबकि वेबसाइट के लिए उतना नहीं |

Blog का bounce rate कैसे पता करे?
आप google analytics का प्रयोग bounce rate को पता लगाने में कर सकते है| इसके लिए आप sign in analytics >> go to dashboard और संपूर्ण result देखे |




आप bounce rate को कैसे कम करे?
यदि आपका blog है और us blog का bounce rate बहुत high है तो आपको bounce rate कम करने का प्रयास करना चाहिए| यहाँ पर हम आपको कुछ टिप्स बता रहे है-
1. Respponsive blog का design बनाइये
जब कोई visiter हमारे blog पर आता है तो content अच्छी तरह से सुसज्जित होने के कारण अच्छा लगता है लेकिन जब वही content अस्त - व्यस्त होता है तो वो तुरंत वहा से निकल लेता है क्योकि उसके लायक content ही नहीं था और उसके devices में content सही तरीके से fit बैठा नहीं | so अपने blog को responsive बनाये |

2. unique content 
अगर आपके blog पर unique content नहीं है तो visiter आपके blog को विजिट ही नहीं करेंगे क्योकी उनको अपने मनपसंद की जानकारी और उपयोगी जानकारी चाहिए होती है | फालतू की जानकारी visiter को रास नहीं आती है और blog को देखकर चले जाते  है |

3. Fast Loading Theme
लगभग सभी visiter चाहते है वो जो वेबसाइट or blog विजिट करे वो जल्दी से खुल जाये क्योकि उन्हें इंतजार करना पसंद नहीं होता है | अक्सर visiter उन्ही साइट्स को ignore भी करते है जो slow load होती है | तो जहा तक हो सके blog में कम javascript codes का प्रयोग करे और कम से कम widget का प्रयोग करे और यहाँ पर related post widget का प्रयोग जरूर करे | और न हो कोई अच्छा सा light theme ही प्रयोग करे |

4. keywords सही चुने 




जी हा जब आप अपने content में जब अच्छा keyword का इस्तेमाल करेंगे तो search engine के through आपका blog बहुत बार visiter के द्वारा देखा जायेगा| और इससे आपके blog की ranking भी बनी रहेगी ज्यादा बार पढ़े जाने से bounce rate तो कम होगा ही |

5. interlinking 
अपने blog में blog की post की लिंक जरूर add करे इससे visiter किसी दुसरे post पर बिना किसी प्रॉब्लम के दुसरे पेज पर तुरंत चला जायेगा| और जब पेज को दो बार से ज्यादा देखा जायेगा तो bounce rate कम जरूर होगा|

Jaroor Parhe ::
Blogger par meta tags description kaise enable kare
Showing post with label- show all post blog par se kaise hataye
Adsense par Jaldi approval kaise paye best tips


Is post में हमने जाना की bounce rate क्या होती है और bounce rate को कैसे कम किया जाये | और भी ज्यादा जानकारी के लिए हमारे updates पढ़ते रहिये |

No comments:

Post a Comment